Farewell Party (11)

Farewell Party

जेसीडी कॉलेज ऑफ फार्मेसी के जूनियर्स ने दी अपने सीनियर्स को सांस्कृतिक विदाई पार्टी
सच्ची लगन, मेहनत एवं ईमानदारीपूर्वक किया गया कार्य दिलाता है सफलता: डॉ. शमीम शर्मा

सिरसा 02 सितंबर: जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित फार्मेसी कॉलेज में अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों को उनके जूनियर्स द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन कर विदाई पार्टी दी गई, जिसमें बतौर मुख्यातिथि जेसीडी विद्यापीठ की प्रबंध निदेशक डॉ. शमीम शर्मा ने शिरकत की जबकि कार्यक्रम की अध्यक्षता जेसीडी फार्मेसी कॉलेज के प्राचार्या डॉ अनुपमा सेतिया ने की. इस मौके पर उनके साथ प्राचार्य डॉ. जयप्रकाश, डॉ. अरिन्दम सरकार, डॉ. कुलदीप सिंह, डॉ. राजेश्वर चावला, डॉ दिनेश कुमार गुप्ता, डॉ शिखा गोयल के अलावा जेसीडी विद्यापीठ के रजिस्ट्रार श्री सुधांशु गुप्ता भी उपस्थित रहे। इस कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्यातिथि एवं अन्य अतिथियों द्वारा मां सरस्वती के चरणों में द्वीप प्रज्ज्वलित करके किया।

इस अवसर पर विद्यार्थी विशाल ,वरुण, मीनाक्षी, डोली, स्नेहा, उदित,मुस्कान,शोभा,महकप्रीत मनन,लक्ष्य आदि ने मनमोहक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया जिसमें वेस्टर्न डांस भांगड़ा सोलो सोंग शायरी प्रस्तुत करके दर्शकों की खूब वाहवाही लूटी।वही फार्मेसी एंड ग्रुप द्वारा भंगड़ा प्रस्तुत करके सबको झूमने पर मजबूर कर दिया, नन्हे मुन्ने संगीत व डांस सम्राट युगांतर प्रधान एवं सना द्वारा दिल को मोहने वाली प्रस्तुति देकर सबका दिल जीता। इस मौके पर प्राचार्या डॉ अनुपमा सेतिया ने मुख्य अतिथि महोदय एवं विभिन्न कॉलेज के प्राचार्यगण व अन्य अतिथियों का स्वागत करते हुए उनका अभिनंदन किया। उन्होंने अपने संबोधन में कहां कि यह आप की असल परीक्षा है उन्होंने कहा फार्मेसी एक एवरग्रीन प्रोफेशन है जिसमें व्यवसाय के असीमित अवसर है। डॉ सेतिया ने कहा कि हो सके तो नकली दवाओं पर रोक लगाने के लिए लोगों को जागरूक करें तथा खुद भी इससे दूरी बनाए रखें ताकि हमारा संपूर्ण राष्ट्र समृद्ध हो सके।

बतौर मुख्य अतिथि अपने संबोधन में डॉ.शमीम शर्मा ने विदा होने वाले विद्यार्थियों के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए अपनी शुभकामनाएं प्रदान की उन्होंने विद्यार्थियों को कहा कि जीवन में जो भी कार्य करें सच्ची लगन मेहनत ईमानदारी के साथ करें तो आप कभी असफल नहीं हो सकते। उन्होंने कहा कि आप यहां से प्राप्त ज्ञान को आगे भी प्रदान करें ताकि संस्थान के साथ-साथ आपका व शहर का नाम रोशन हो सके उन्होंने कहा आगे आने वाली चुनौतियां को का डटकर मुकाबला करके बेहतर रास्ता अख्तियार करें। डॉ शर्मा ने कहा कि आने वाले समय में फार्मेसी का भविष्य उज्जवल है यही फार्मेसी के विद्यार्थी कोर्स करके रिसर्च साइंटिस्ट बनकर और दवाइयों की खोज करके देश की सेवा करते है और मार्केटिंग प्रतिनिधि नई – नई मेडिसिन के बारे में डॉक्टरों को अवगत करवाते हैं वही फार्मेसिस्ट मरीजों को दवा के साथ हौसले की भी डोज देते हैं डॉ शमीम शर्मा ने अनेक सफल व्यक्तियों के जीवन की चर्चा करते हुए कहा की साहसी लोग हार कर भी जीतने का हौसला दिलाते हैं जिसको पाकर ही उन्हें कामयाबी हुई है। उन्होंने सभी भावी अध्यापकों से अनुरोध किया कि वह अपने जीवन में समाज के लिए समर्पित संस्कारिक कार्य करें और विश्व विजेता बने।

इस अवसर पर जेसीडी विद्यापीठ के विभिन्न कॉलेजों के प्राचार्यगण, विद्यापीठ के रजिस्ट्रार महोदय, फार्मेसी कॉलेज के शिक्षक एवं गैर शिक्षक सदस्यों सहित समस्त छात्र छात्राएं उपस्थित रहे। कार्यक्रम के अंत मे डॉ.प्रदीप कम्बोज ने आए हुए सभी अतिथियों का धन्यवाद किया